Blog Archives

लेकर के मेरा नाम..

लेकर के मेरा नाम मुझे कोसती तो है, नफरत में ही सही पर मुझे सोचती तो है… Advertisements

Tagged with:
Posted in Shayari

तुम्हारी राह में..

तुम्हारी राह में मिट्टी के घर नहीं आते, इसीलिए तो तुम्हें हम नज़र नहीं आते..

Tagged with:
Posted in Shayari

हर यार – यार नहीं होता..

हर यार – यार नहीं होता.. हर यार वफादार नहीं होता.. दिल आने कि बात है.. नही तो सात फेरो के बाद भी, प्यार नही होता..

Tagged with:
Posted in Shayari

मुझको इस जहां में..

मुझको इस जहां में सिर्फ तुझसे ही इश्क़ हैं, या तो मेरा इम्तिहाँ ले या मेरा एतबार कर..

Tagged with:
Posted in Shayari

बुजदिल हें वो लोग..

बुजदिल हें वो लोग जो मोहब्बत नहीं करते, बहुत हौसला चाहिए बर्बाद होने के लिए..

Tagged with:
Posted in Shayari

ऐ मोहब्बत..

ऐ मोहब्बत तुझे पाने की कोई राह नहीं, शायद तू सिर्फ उसे ही मिलती है जिसे तेरी परवाह नही..

Tagged with:
Posted in Shayari

​वो मेरे दिल पर..

वो मेरे दिल पर सिर रखकर, सोई हुई थी बेखबर.. हमने धड़कन ही रोक ली, कहीं उसकी नींद ना टूट जाए..

Tagged with:
Posted in Shayari

खूश्बु कैसे ना आये..

खूश्बु कैसे ना आये मेरी बातों से यारों, मैंने बरसों से एक ही फूल से जो मोहब्बत की है..

Tagged with:
Posted in Shayari

मुझे आदत नहीं..

मुझे आदत नहीं यूँ हर किसी पे मर मिटने की, पर तुझे देख कर दिल ने सोचने तक की मोहलत ना दी..

Tagged with:
Posted in Shayari

लोग इन्सान देखकर..

लोग इन्सान देखकर मोहब्बत करते हैं, मैने मोहब्बत करके इन्सानों को देख लिया..

Tagged with:
Posted in Shayari